गोलगप्पों के दीवाने हो जाएँ सतर्क, यह ख़बर है बहुत महत्वपूर्ण…

golappa

जब गोलगप्पे खाने की बात आती है तो हर किसी के मुंह में पानी जरूर आ जाता है. चटाखेदार मसाला पानी, उबले आलू मटर से भरे गोल-गोल गोलगप्पों को बच्‍चे से लेकर बड़े सभी बहुत शौक से खाते हैं. इन्हें पानी पुरी, गुपचुप, फुचका और फुचकी भी कहा जाता है यह सूजी से भी बनाये जाते है और आटे से भी. ये जायकेदार गोलगप्पे भारत के कई राज्यों में खाये जाते हैं और इन्हें हर जगह अलग-अलग नामों से पुकारा जाता है. साथ ही इन्हें परोसने का तरीका भी हर जगह अलग-अलग ही होता है.

मगर यही स्वदिस्ट गोलगप्पे आपके स्वस्थ के लिए ख़तरनाक साबित हो सकता है. अभी हाल के ही घटना में मध्य प्रदेश के मुरैना जिले में पानी पुरी खाने से 50 से ज्यादा लोग बीमार हो गए. इनमें से अधिकांश की हालत गंभीर बताई जा रही है. सभी को इलाज के लिए जिला अस्पताल में भर्ती किया गया है. जानकारी केमुताबिक इन सभी ने एक ठेले से पानी पुरी खाया था जिसके सभी लोगों की तबीयत अचानक बिगड़ने लगी, जिनमें ज्यादातर महिलाएं और बच्चें शामिल हैं.

आपको बता दें की हर गली मोहल्ले में बिकने वाले इस स्‍वादिष्‍ट गोलगप्पे को जिस आटे से तैयार किया जाता है उसे गूंथने के लिये काफी समय और मेहनत लगती है. इसे हाथों से गूंथना थोड़ा मुश्किल होता है इसलिए इसे बनाने वाले कारीगर इसे जमीन पर रखकर पैरों से गूंथते हैं.

साथ ही गोलगप्पों का लजीज स्‍वाद आपकी सेहत के लिए काफी नुकसानदायक हो सकता है. डीप फ्राई की हुई ये पूरियां आपके लिए पूरी तरह से हानिकारक हैं. क्‍योंकि इन्हें तलने के लिए बार-बार एक ही तेल का इस्‍तेमाल किया जाता है. इसके अलावा इसकी चटनी और पानी आपको पेट के लिये हानिकारक होते हैं.

इस न्यूज़ को शेयर करे और कमेंट कर अपनी राय दे.