मेट्रो लाकर अखिलेश ने खोले लखनऊ में विकास के द्वार, गृहमंत्री के इस बयान से हुआ साबित!

lucknow metro

यूपी की राजधानी लखनऊ में भी मंगलवार से मेट्रों का परिचालन शुरू हो गया. आज सीएम योगी, गृहमंत्री राजनाथ सिंह और गवर्नर राम नाईक की मौजूदगी में हरीझंडी दिखाकर मेट्रो को रवाना किया गया. बता दें कि लखनऊ में मेट्रो चलाने की घोषणा अखिलेश सरकार में की गई थी. अखिलेश यादव के मुख्यमंत्री रहते हुए मेट्रो निर्माण का काम भी शुरू किया गया था. जबकि सपा सरकार में एक बार मेट्रो का ट्रायल भी हुआ था.

हालांकि मेट्रो का काम पूरी तरह से फिनिश होने के बाद बीजेपी सरकार में इस ग्रीन सिग्नल मिला. जो कि अब से ट्रांसपोर्ट नगर से चारबाग तक रोजाना दौड़ेगी. मेट्रो उद्घाटन के दौरान जहां सीएम योगी ने यह कहा था कि इस परियोजना के आने से प्रदेशवासियों को सहूलियत मिलेगी तो वहीं गृह मंत्री राजनाथ सिंह ने कहा कि मेट्रो शरू होने से लखनऊ की स्मार्टनेस बढ़ गई है. मेट्रो के लिए भले ही केवल अखिलेश को धन्यवाद न देकर ने इससे जुड़े अन्य लोगों बधाई दी गई.

लेकिन अगर सिर्फ मेट्रो आने से लखनऊ की स्मार्ट हो गई है तो इस स्मार्टनेस का श्रेय अखिलेश को मिलना चाहिए. क्योंकि लखनऊ मेट्रो की कल्पना उन्होंने ही की थी. इतना ही नहीं गृह मंत्री ने अपने संबोधन के दौरान यह भी कहा, ‘जिस भी शहर में मेट्रो चलती है, वहां विकास के द्वार खुल जाते हैं.’ इस बयान पर अगर ध्यान दिया जाय तो इसका यह अर्थ भी निकाला जा सकता है कि पूर्व सीएम अखिलेश ने मेट्रो लाकर लखनऊ में विकास के द्वार खोल दिए हैं.


यह भी पढ़ें:
मेट्रो को हरी झंडी दिखाने जा रही योगी सरकार के खिलाफ आखिर सपा को कहनी ही पड़ी यह बड़ी बात!
लखनऊ मेट्रो की शुरुआत से पहले अखिलेश ने अपने ट्विट से मचा दी खलबली!
बसपा मुखिया मायावती ने केंद्र की मेट्रो रेल नीति पर दिया बड़ा बयान, कहा मोदी सरकार..!


इस न्यूज़ को शेयर करे तथा कमेंट कर अपनी राय दे.