सीएम योगी और इन्हें बनाया जाएगा एमएलसी?

cm yogi

uttar pradesh

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने शनिवार को उपराष्ट्रपति चुनाव में वोट देने के बाद सीएम योगी आदित्यनाथ ने संसद सदस्य के पद से इस्तीफा दे दिया था. उन्होंने अपना इस्तीफा लोकसभा अध्यक्ष सुमित्रा महाजन को सौंप दिया था. अपने इस्तीफे के बाद सीएम योगी ने कहा था कि पार्टी जैसा कहेगी वैसा ही करूंगा. पार्टी के निर्देश का पालन करूंगा. ऐसा कहा जा रहा है कि सीएम योगी जल्द ही किसी विधानसभा सीट ने चुनाव लड़ेंगे. लेकिन इस बीच ऐसी भी खबर सामने आ रही है कि सीएम योगी बीजेपी द्वारा विधान परिषद के सदस्य भी बनाए जा सकते हैं.

बता दें कि बीजेपी अपने चार मंत्रियों और को यूपी के उच्च सदन में पहुंचाने को तैयार हैं. जिनमें उपमुख्यमंत्री केशव मौर्य और दिनेश शर्मा के अलावा दो और मंत्री भी शामिल हैं. बता दें कि सीएम योगी सहित इन सभी मंत्रियों को अपने शपथ ग्रहण से छह महीने के भीतर विधानसभा या विधान परिषद का चुनाव लड़ना है. यदि ये सभी एमएलए का चुनाव लड़ते हैं उनके लिए ऐसी सीट का चयन करना होगा जहां से बीजेपी की जीत सुनिश्चित हो.

क्योंकि अगर इनमें से अगर किसी को भी हार का सामना करना पड़ता है तो बीजेपी को तगड़ा झटका लगा सकता है और लोगों में पार्टी की विश्वसनीयता पर सवाल भी खड़ा कर हो सकता है. हालांकि योगी के समर्थक तो यह चाह रहे हैं कि वो चुनाव लड़कर ही सदन पहुंचे. ताकि उनको लेकर अच्छा संदेश जनता में पहुंचे. योगी या उनके चार मंत्री विधायक का चुनाव लड़ते हैं या फिर पार्टी द्वारा एमएलसी बनाए जाते हैं इस पर अंतिम फैसला पार्टी अध्यक्ष अमित शाह ही ले सकते हैं. जो आने वाले कुछ दिनों में साफ हो जाएगा.

इस न्यूज़ को शेयर करे और कमेंट कर अपनी राय दे.