बिग ब्रेकिंग: अखिलेश समर्थकों के लिए खुशखबरी चुनाव चिन्ह और पार्टी का नाम आ ही गया, अब ये होगा पार्टी का नाम और चुनाव चिन्ह!

akhilesh-yadav-1475983242


सपा में चल रहे घमासान के बीच नया मोड़ आ गया है. बता दे कि पार्टी में लम्बे अरसे से बर्चस्व का लड़ाई जारी था. जिसे लेकर दिग्गज से लेकर पार्टी कार्यकर्ताओं तक में भी काफी असमंजस कि स्थिति बना हुआ था. पार्टी के कार्यकर्ताओं को समझ में नही आ रहा था कि वो इस लड़ाई में किसके साथ खड़े हो. लेकिन इन सब के बीच आज नेता जी ने कार्यकर्ताओं को खुशियों से उत्साह भर दिया है. उन्होंने कहा है कि पार्टी के अंदर जो कुछ भी चल रहा है.

वो जल्द ही सुलह हो जाएगा, कुछ बाहरी लोगों के द्वार पार्टी को तोड़ने कि कोशिश कि जा रही थी. लेकिन मैं किसी भी शर्त पर पार्टी को नहीं तोड़ने दूंगा. पार्टी का कौन शख्स दूसरे दलों के नेताओं से मिल रहा है, मुझे सब पता है. उन्होंने पुराने दिनों को याद करते हुए कहा कि कितनी तकलीफे झेलीं मैंने और शिवपाल ने, दोनों कितनी बार जेल गए. शिवपाल रात को छुप जाता था दिन में प्रचार करता था.

उन्होंने रामगोपाल यादव पर निशाना साधते हुए कहा कि वो दूसरी पार्टी के अध्यक्ष से चार बार मिले, अगर हमसे कहते तो उनके बहू-बेटे को बचा लेते मगर गलत हाथों में खेल रहे हैं. नेता जी ने ये भी कहा कि हम किसी भी कीमत पर पार्टी को अलग नहीं करना चाहते. आप मेरे साथ रहिए, पार्टी को हम बचाएंगे. मुलायम ने कहा कि रामगोपाल ने चुनाव आयोग से नई पार्टी के रूप में अखिल भारतीय समाजवादी पार्टी नाम और मोटरसाइकिल चुनाव चिह्न मांगा है. लेकिन हम पार्टी टूटने नहीं देंगे.


इस न्यूज़ को शेयर करे और कमेंट कर अपनी राय दे.